अमिताभ से रेखा तक पहुँचा कोरोना

Aditya Singh

कोरोना महामारी ने अमिताभ बच्चन के परिवार को भी चपेट में ले लिया है। अमिताभ बच्चन के बाद खबर है कि अभिषेक बच्चन भी कोरोना पॉजिटिव हैं । वहीं अभिनेत्री रेखा पर भी महामारी का संकट मंडरा रहा है। उनका बंगला सील कर दिया गया है। सबसे पहले खबर आई कि महानायक अमिताभ बच्चन को मुंबई के नानावटी अस्पताल में भर्ती कराया गया है । इसके कुछ ही मिऩट बाद अमिताभ बच्चन ने इसकी पुष्टी कर दी । अमिताभ बच्चन ने अपने ट्वीट में लिखा की मेरी कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अस्पताल में भर्ती कर लिया गया है। अधिकारियों को सूचना दे दी गई है। परिवार के सदस्यों की जांच कर ली गई है । परिणाम का इंतजार है । जो लोग पिछले 10 दिनों में मेरे संपर्क में आए हैं उनसे अनुरोध है कि वह भी अपनी जांच करवा लें ।

कोरोना इंफेक्शन ज्यादा नहीं, लेकिन ऑक्सीजन स्तर कम

शुरुआती रिपोर्ट में बताया गया है कि उन्हें कोरोना वायरस का ज्यादा कोरोना इंफेक्शन नहीं है, लेकिन उनकी मेडिकल हिस्ट्री देखते हुए अत्यधिक सावधानी बरती जा रही है। जब उन्हें लाया गया था, तब उनका ऑक्सीजन स्तर कम था। बता दें कि बच्चन को लीवर और किडनी की भी समस्या है। पिछले साल अक्टूबर में भी अमिताभ बच्चन की तबीयत रात 2 बजे अचानक बिगड़गई थी। इसके बाद उन्हें मुंबई के नानावटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

 

डॉ अब्दुल एस अंसारी कर रहे देखभाल

नानावटी सूत्रों ने बताया है कि अमिताभ अभी क्रिटिकल केयर सर्विसेज के डायरेक्टर डॉ अब्दुल एस अंसारी के साथ तीन डॉक्टरों की निगरानी में है। अस्पताल ने डॉ अंसारी को अमिताभ की देखभाल के लिए विशेष रूप से नियुक्त किया है। कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद उनके अन्य टेस्ट भी किए जा रहे हैं।

वहीं, देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने अमिताभ के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर पर चिंता जताई। मीडिया से फोन पर बातचीत में डॉ हर्षवर्धन ने कहा कि वे नानावटी हॉस्पिटल के सम्पर्क में हैं और उन्होंने अमिताभ की पूरी केयर के खास निर्देश दिए हैं।

अमिताभ ने  मेडिकल सटाफ को दिया भगवान का दर्जा

नानावटी हॉस्पिटल में एडमिट होने के बाद अमिताभ ने वहां से मेडिकल स्टाफ के सम्मान में एक वीडियो मैसेज भेजा जिसमें उन्होंने मडिकल स्टाफ को भगवान का दर्जा देते हुए  कहा- नमस्कार मैं अमिताभ बच्चन ।अभी हाल ही मैंने ट्विटर पर गुजरात के सूरत के बिलबोर्ड की एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें लिखा था कि मंदिर क्यों बंद हैं? क्योंकि भगवान अस्पताल में सफेद कोट पहन कर काम कर रहे हैं।आप सभी डॉक्टर, नर्स ईश्वर का रूप हैं। आप हमारे लिए जीवनदायी बन गए हैं। आप बहुत सराहनीय काम कर रहे हैं। आप न होते तो न जाने इंसानियत कहां जाती। मैं हाथ जोड़कर आपके सामने नतमस्तक हूं। मैं जानता हूं कि ये दिन थोड़े निराशाजनक है। लेकिन, घबराएं नहीं, निराश न हो। हम सब एक साथ हैं, हम सब एक साथ काम करेंगे। पूरा देश जानता है कि आप कितनी मेहनत से काम कर रहे हैं। थैंक्यू सो मच नानावटी हॉस्पिटल।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

भारत सोने की चिड़िया बनकर शहीदों के सपनों को करेगा पूरा: डॉ महेंद्र सिंह

उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री व प्रयागराज जिला के प्रभारी डॉ महेंद्र सिंह ने करछना विधानसभा में वर्चुअल सम्मेलन […]
प्रयागराज के करछना विधानसभा में वर्चुअल सम्मेलन के माध्यम से भाजपा के सैकड़ों कार्यकर्ताओं को संबोधितकरते हुए।

You May Like