दिल्‍ली में कोरोना की संख्‍या 17 हजार के पार, मनीष सिसोदिया बोले- घबराएं नहीं

Ashu Yadav

देश की राजधानी दिल्‍ली में लगातार कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे है और पिछले चौबीस घंटों के नए मामले ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और अब कोरोना की संख्‍या 17 हजार के पार पहुंच गई है. ऐसे में लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है.

Informative
दिल्‍ली में लगातार कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे है ,सिसोदिया बोले- घबराएं नहीं

देश की राजधानी दिल्‍ली में लगातार कोरोना वायरस के केस बढ़ते जा रहे है और पिछले चौबीस घंटों के नए मामले ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं और अब कोरोना की संख्‍या 17 हजार के पार पहुंच गई है.

दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना वायरस के मामलों को लेकर उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन ने मीडिया से बात की. इस मौके पर उप मुख्‍यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा है कि कोरोना वायरस से घबराने की नहीं बल्कि सतर्क रहकर ऐहतियात बरतने की जरूरत है.

सिसोदिया ने कहा है कि दिल्ली में अच्छी बात यह है कि मरीज बढ़ रहे हैं लेकिन ठीक होनेवाले लोगों का ग्राफ भी तेजी से ऊपर जा रहा है और कुल मरीजों में से 50 प्रतिशत ठीक हो चुके हैं.सिसोदिया ने यह भी कहा कि अगर आसपास किसी को कोरोना हो जाए तो खौफ में न आएं , यह छूआ-छूत की बीमारी नहीं है.

इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि दिल्ली में अब तक 17386 मामले सामने आ चुके हैं और पिछले एक दिन में 1106 नए केस सामने आए हैं और 13 लोगों की मौत हुई है. चिकित्‍सा सुविधाओं को लेकर उनहोंने कहा कि हमारे पास 5000 बेड हो गए हैं, इसमें 3700 सरकारी, 1300 प्राइवेट अस्‍पतालों के बेड हैं.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री के अनुसार, दिल्ली में अबतक कोरोना वायरस की वजह से 398 मौतें हो चुकी हैं. इसके अलावा अबतक कुल 7846 लोग ठीक हो चुके हैं.

मनीष सिसोदिया ने कहा कि कोरोना होने पर सभी को हॉस्पिटल में भर्ती होने की जरूरत नहीं होती है और देशभर में 80 से 90 प्रतिशत लोग होम क्वारंटाइन में रहकर भी ठीक हो रहे हैं. ऐसे में लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अब यात्री कर सकते है ट्रेनों में तत्काल बुकिंग|

भारतीय रेलवे ने गुरुवार को विशेष यात्री ट्रेनों के लिए अग्रिम आरक्षण की अवधि को 30 दिनों से बढ़ाकर 120 दिन कर दिया है। रेल मंत्रालय ने सभी विशेष ट्रेनों के लिए तत्काल टिकट बुकिंग की सुविधा भी बहाल कर दी है।
अब यात्री कर सकते है ट्रेनों में तत्काल बुकिंग|