लॉक डाउन के राशन में भ्रष्टाचार: गरीबों का हक मार जेब भर रहे हैं कोटेदार

ePatrakaar

हम कोटेदार इस्लाम अहमद के कारनामों की पूरी कहानी अपने पाठकों के सामने रख रहे हैं। आप खुद देखिए किस तरह से इस्लाम की बोलती बंद हो जाती है और उनकी मदद पूर्व विधायक भी करने से मना कर देते हैं।

सुल्तानपुर। एक तरफ देश लॉकडाउन की स्थिति का सामना कर रहा है और सरकारें गरीबों को किसी तरह की परेशानी ना हो इसपर विशेष ध्यान दे रही हैं। लेकिन इन दिनों कोटेदारों की चांदी हुई पड़ी है। आलम यह है कि जहां पांच किलो राशन प्रति युनिट देना चाहिए वहां 4 किलो प्रति युनिट राशन बांटा जा रहा है।

ताजा मामले में सुल्तानपुर जिले के कादीपुर ब्लॉक के अमरेथू डढियां ग्राम पंचायत के कोटेदार इस्लाम अहमद की कालाबाजारी और गरीबों का हक मारने की कहानी सामने आई है। हद तो तब हो गई जब इनके यहां कवरेज करने पहुंचे हमारे साथी से इन्होंने सीधा पूर्व विधायक राम चंद्र से बात कराई।

Img 20200405 Wa0014
Img 20200405 Wa0014

बातचीत के दौरान कोटेदार ने स्वीकार किया कि पांच किलो राशन लोगों को देने के लिए मिलता है लेकिन वह चार किलो राशन दे रहे हैं। जब पूर्व विधायक राम चंद्र को इस बात की जानकारी मिली तो उन्होंने इस्लाम की मदद करने से मना कर दिया। हम कोटेदार इस्लाम अहमद के कारनामों की पूरी कहानी अपने पाठकों के सामने रख रहे हैं। आप खुद देखिए किस तरह से इस्लाम की बोलती बंद हो जाती है और उनकी मदद पूर्व विधायक भी करने से मना कर देते हैं।

 

जनाब के कारनामें का वीडियो देखिए:
https://youtu.be/pBBpHh-Vaww
वहीं इस्लाम का कहना यह भी है कि उनके पास 365 मीडियाकर्मी आते हैं। हमारी अपने पाठकों से अपील है कि वह इस समाचार को इतना वायरल करें की सूबे के सीएम और संबंधित अधिकारियों के पास इस्लाम अहमद के कारनाओं की बात पहुंचे और उनके खिलाफ कार्रवाई हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

महाराष्ट्र में कोरोना का कहर: तेजी से बढ़ रही मरीजों की संख्या, चिंता में सरकार

महाराष्ट्र में 145 नए मरीजों के साथ कोरोना :- कोरोना वायरस से महाराष्ट्र में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 635 हो […]
Img 20200405 Wa0010

You May Like