E Patrakaar – Welcome to New World of Digital Journalism

ePatrakaar 1
Read Time:5 Second

प्रिय पाठक,

जैसा कि नाम से ही विदित है कि इस वेबसाइट का नाम ई-पत्रकार रखा गया है। ये वेबसाइट मेरी अपनी खुद की(श्रवण शुक्ला) की पहचान है। मुझे याद है, जब मैंने पहली बार पत्रकारिता की दुनिया में कदम रखा था। साल था 2010 और तब ऑनलाइन पत्रकारिता को लेकर देश में गंभीरता नहीं थी। तब ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स को महज चलताऊं प्लेटफॉर्म मानकर गंभीर पत्रकारिता की दुनिया वाले न सिर्फ खारिज कर रहे थे, बल्कि वो ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर काम करने वाले पत्रकार साथियों की खिल्ली भी उड़ाया करते थे।

तब से अबतक के साढ़े 9 साल के सफर में दुनिया में काफी कुछ बदल चुका है। अमेरिका जैसे विकसित देश में अखबारी प्रकाशनों ने डिजिटल वर्ल्ड में न सिर्फ कदम रखे, बल्कि अपने प्रकाशनों को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म्स तक समेट दिया। समेटना इसलिए, क्योंकि बाद के दिनों में उन्होंने अपने प्रकाशनों को प्रिंट करने की बजाय अधिकतर लोगों तक डिजिटल माध्यम से पहुंच बनाई। इस रास्ते को अपनाने से न सिर्फ उन्होंने अपनी प्रिटिंग की लागत को खत्म कर दिया, बल्कि इंटरनेट की सर्वसुलभता से वो बड़े पाठक वर्ग तक पहुंचे। इसका परिणाम ये हुआ कि उन्होंने ऑनलाइन सब्सक्रिप्शन के माध्यम से न सिर्फ अपनी आमदनी को बढ़ाया, बल्कि दुनिया के हर कोने में पहुंच गए।

अब अगर मौजूदा समय की बात करें तो हरेक प्रकाशन अपने ऑनलाइन डिपार्टमेंट पर न सिर्फ ध्यान दे रहे हैं, बल्कि उसपर अच्छा खासा निवेश भी कर रहे हैं। बात सिर्फ अखबारी या मैगजीन प्रकाशन की नहीं है. बल्कि संचार के अन्य माध्यम जैसे टेलीविजन, रेडियो जैसे संचार के स्रोतों ने भी ऑनलाइन विभाग के माध्यम से अपनी पहुंच बढ़ाई और अपनी ब्रांडिंग को एक नया आयाम दिया।

जैसा कि ऊपर बताया जा चुका है कि इन साढ़े 9 सालों में न सिर्फ प्रकाशनों की दिशा, दशा और सामाग्री में परिवर्तन आया है, बल्कि उन्होंने ऑनलाइन माध्यम के चलते अपनी पहुंच भी बनाई। इसका उदाहरण ये भी है कि अब तमाम बड़े फिल्म वितरक, टेलीविजन प्रोडक्शन कंपनियां न सिर्फ ओटीटी के माध्यम लोगों की जेब तक पहुंचे हैं। बल्कि नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, अल्ट बालाजी जैसी कंपनियां मोटी कमाई भी कर रही हैं। वहीं, टी-सिरीज ने खुद को तो गानों के कैसेटों से शुरू हुए सफर को सबसे बड़े वीडियो प्लेटफॉर्म यू-ट्यूब पर दुनिया का सबसे बड़ा पब्लिशर बना दिया है। आज टी-सिरीज के पास दुनिया का सबसे बड़ा दर्शक वर्ग यानि सब्सक्राइबर हैं, जो किसी की भी वीडियो के पब्लिश होते ही उसे महज कुछ ही घंटों में करोड़ों बार देख चुके होते हैं। यही ऑनलाइन माध्यम की सबसे बड़ी ताकत है।

अब आप सोच रहे होंगे कि ई-पत्रकार ही क्यों? तो जब 2010 में मैंने पत्रकारिता की दुनिया में कदम रखा था, तो सबसे पहली बात यही मन में आई थी कि मैं टेलीविजन की दुनिया में नहीं जाऊंगा, न ही प्रिंट माध्यम से सुस्त पत्रकारिता करूंगा। मेरी सोच पहले से ही साफ थी कि मैं उस माध्यम से अपनी पत्रकारिता करूंगा, जिसमें पलक झपकते ही सूचना का प्रसार हो। इसीलिए मैंने अपनी पहचान ई-पत्रकार के तौर पर बनाने का निर्णय लिया और अपनी ई-मेल आईडी का पता बनाया- epatrakaar@gmail.com । हालांकि मैं अपने निर्णय पर लंबे समय तक कायम नहीं रह पाया और न्यूज एजेंसी के बाद भारत सरकार से जुड़ी एक मैगजीन में काम किया। उसके बाद डिजिटल पत्रकारिता में आते हुए मैंने महुआ न्यूज के ऑनलाइन विभाग का कामकाज संभाला और खबरों के संपादन से लेकर किसी खबर के पीछे की खबरें भी प्रकाशित की। इस बीच वेबदुनिया डॉट कॉम से जुड़कर इलेक्शन रिपोर्टिंग की और फिर जल्दी ही खबरों के दूसरे सबसे शक्तिशाली माध्यम टेलीविजन की दुनिया में भी कदम रखा और श्री न्यूज से होते हुए इंडिया न्यूज पहुंच गया।

इस बीच ई-पत्रकार होने का जुनून हमेशा बना रहा और मैं न्यूज 18 आ गया। जहां से ऑनलाइन माध्यम के हर विभाग में काम किया और इस दुनिया को अच्छे तरीके से जिया। यहां काफी समय काम करने के बाद अमर उजाला का रुख किया, और फिर वहां से टेलीविजन की दुनिया में वापसी करते हुए इंडिया न्यूज में बतौर सीनियर प्रोड्यूसर दूसरी पारी खेली और अंतत: न्यूज वर्ल्ड इंडिया में स्पेशल प्रोजेक्ट पर काम करते हुए करीब एक साल जुड़ा रहा। यहां भी मैं बतौर सीनियर प्रोड्यूसर जुड़ा। इस बीच मेरे बनाए तमाम शो टीआरपी की दुनिया में धमाल मचाते रहे और कुछ क्रिएटिव शो यूट्यूब पर मिलियन से अधिक बार देखे गए। हालांकि इस बीच मैं ऑनलाइन माध्यम पर सक्रियता जारी रखी और खबरें24 डॉट कॉम, खबर ऑन डिमांड डॉट कॉम, न्यूज चैनल इंडिया डॉट कॉम, एंटरटेनमेंट हिंदी डॉट कॉम पर खबरों के संपादन से लेकर खबरों का मसौदा तय करने के काम में जुटा रहा।

इस साढ़े 9 साल के सफर में मैंने बतौर चुनावी विश्लेषक, संयोजक, सोशल मीडिया विशेषज्ञ के तौर पर देश की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टियों मसलन बीजेपी, कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और छात्र संगठन एनएसयूआई के साथ काम किया और उन तमाम अनुभवों को अर्जित किया, जिसके दम पर मैं अब खुद को अपनी ई-पत्रकार की पहचान के साथ सहज पाता हूं। उपरोक्त बातों को ध्यान में रखते हुए अब ये फैसला लिया गया है कि मैं पूर्णकालिक तौर पर अपनी ई-पत्रकार की पहचान में समाहित हो जाऊं और ऑनलाइन पत्रकारिता की दुनिया में खुद को स्थापित कर सकूं।

मैं ई-पत्रकार(श्रवण शुक्ला) आपके साथ, विश्वास और प्रेम को बनाए रखने की कोशिश करूंगा और निर्विकार भाव से स्वच्छ पत्रकारिता को अंजाम देता रहूंगा।

 

सादर

श्रवण शुक्ला

संपर्क-7011563712

1,507 total views, 7 views today

2 0

About Post Author

ePatrakaar

Proud Indian #Political Thinker-Strategist, #Journalist at @KhabarNWI, ex- @InKhabar @AmarUjalaNews @News18India @WebduniaHindi @Mahuaa
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

One thought on “E Patrakaar – Welcome to New World of Digital Journalism

  1. Bhut hi majedar anubhav rha apke bare me padke
    2012 me mene bhi jalauntimes.com ki shuruaat ki ti jo abhi tk jari hai aur usse pahichan bhi mili hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

Ind vs SA: भारत ने दक्षिण अफ्रीका को रौंदा, रोहित ने बनाए कई रिकॉर्ड

विशाखापत्तनम। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेले गए पहले टेस्ट मैच के आखिरी दिन बड़ी जीत दर्ज की। भारत ने दक्षिण अफ्रीका को वाइजैग में हुए मैच में 203 रनों से करारी शिकस्त दी। इस मैच की दोनों ही पारियों में शतक लगाने वाले रोहित शर्मा को मैन ऑफ […]
India won first test over South Africa by 203 runs

You May Like