मातोश्री के पास चाय बेचने वाली महिला को हुआ कोरोना

Anchal Shukla

‘मातोश्री’ के पास मिला कोरोना पॉजिटिव,
आस पास का पूरा इलाका सैनिटाइज किया गया।

मातोश्री के बाहर चाय बेचने वाली महिला कोरोना पॉजिटिव इस दुकान पर उद्धव के घर पर काम करने वाले स्टाफ भी जाते थे। अब सभी स्टाफ का कोरोना टेस्ट होगा।

 

 

Img 20200407 Wa0012
Img 20200407 Wa0012                                                                                                                      मुंबई के कलानगर की सील की गई पूरी सड़क मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उनके परिवार के सदस्यों के लिए काम करने वाले 150 से अधिक कर्मचारियों का कोरोना टेस्ट किया जाएगा। सभी के नमूनों को ले लिया गया है। इसके साथ ही मातोश्री के करीब के पूरे इलाके को सैनिटाइज कर दिया गया है।

बांद्रा में कलानगर के इलाके में सोमवार को कोरोना वायरस का एक पॉजिटिव मरीज पाया गया है, वो टी स्टॉल वेंडर है। यह इलाका ‘मातोश्री’ के पीछे ही स्थित है। बता दें कि महाराष्ट्र सरकार का पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस भी इसी रोड पर है।

कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित शहर मुंबई है।यहां कोरोना के 526 मामले सामने आ चुके हैं, वहीं 34 की मौत हो चुकी है। इस बीच इस घातक वायरस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के निवास स्थान ‘मातोश्री’ के पास भी दस्तक दे दी है।

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस से पूरी दुनिया इस समय प्रभावित है। दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन है, उड़ाने और यातायात के साधन बंद हैं। दुनियाभर में इस संक्रमित लोगों की संख्या 12 लाख के आंकड़े को पार कर चुकी है। भारत में जहां अब संक्रमण के मामले 4067 हो गए हैं। बीते 24 घंटे में देश में 693 नए केस सामने आए हैं। महाराष्ट्र में 690 तो तमिलनाडु में 571 से ज्यादा कोरोना मरीज हैं। अब तक देश में 109 लोगों की मौत हो गई है, कोरोना वायरस को देखते हुए इस समय देश में 21 दिनों तक लॉकडाउन लगा हुआ है।

आपको बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को कहा है कि भारत में कोरोना वायरस स्टेज 2 से आगे निकल चुका है लेकिन स्टेज 3 में नहीं पहुंचा है। भारत में कोरोना इन दोनों स्टेज के बीच है। स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि भारत अभी दूसरे ओर तीसरे चरण के बीच की स्थिति में है, यानी भारत में अभी कम्‍युनिटी ट्रांसमिशन शुरू नहीं हुआ है। तीसरे चरण में पहुंचने से रोकने के लिये ही प्रयास किए जा रहे हैं, मालूम हो कि दूसरी स्टेज में देश के लोगों में विदेश से आए लोगों के जरिए संक्रमण फैलता है। तीसरी स्टेज में पहुंचने पर वायरस संक्रमित लोगों के आसपास मौजूद दूसरे लोगों में फैलने लगता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

यात्री ट्रेनों को चलाने के लिए ये कदम उठा सकती है रेलवे, सोशल डिस्टेंसिंग का रखा जाएगा खास ध्यान

रेलवे ने सुझाव में रखा कि अगर ट्रेनें चलेंगी तो इनका ठहराव हॉट स्पॉट पर नही किया जाएगा।इसके लिए एसीपी(ऑटो चैन पुलिंग सिस्टम) डिसकनेक्ट किया जाएगा।