पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा -5 i फॉर्मूले से भारत बनेगा आत्मनिर्भर,सभी को मिलेगा लाभ

Ashu Yadav

पीएम मोदी ने कहा है कि भारत को फिर से तेज विकास के पथ पर लाने के लिए और आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत जरूरी हैं- Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure और Innovation.

Informative
PM Modi- 5I formula

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उद्योग संगठन भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की 125वीं सालगिरह के सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा है कि कोरोना वायरस की वजह से अर्थव्यवस्था में पड़े असर को दूर करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं.

पीएम मोदी ने कहा है कि भारत को फिर से तेज विकास के पथ पर लाने के लिए और आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए 5 चीजें बहुत जरूरी हैं- Intent, Inclusion, Investment, Infrastructure और Innovation.

नरेंद्र मोदी ने कहा कि हाल में कई कड़े फैसले लिए गए हैं, उसमें आपको इन सभी की झलक मिल जाएगी.महिलाएं हों, दिव्यांग हों, बुजुर्ग हों, श्रमिक हों, हर किसी को इससे लाभ मिला है. लॉकडाउन के दौरान सरकार ने गरीबों को 8 करोड़ से ज्यादा गैस सिलेंडर डिलिवर किए हैं और इसी के साथ प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना ने गरीबों को तुरंत लाभ देने में बहुत मदद की है और इस योजना के तहत अब तक करीब 74 करोड़ लाभार्थियों तक राशन पहुंचाया जा चुका है और प्रवासी श्रमिकों के लिए भी फ्री राशन पहुंचाया जा रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ अर्थव्यवस्था को फिर से मजबूत करना, हमारी पहली प्राथमिकता है.पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट और लॉकडाउन पर कहा कि जब दुनिया में कोरोना वायरस फैला रहा था, तब भारत में सही समय पर और सही कदम उठाए गया और भारत में लॉकडाउन का व्यापक प्रभाव रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कोरोना ने हमारी स्पीड जितनी भी धीमी हो, लेकिन आज देश की सबसे बड़ी सच्चाई यही है कि भारत, लॉकडाउन को पीछे छोड़कर अनलॉक के पहले चरण में प्रवेश कर चुका है और अनलॉक फेस-1 में अर्थव्यवस्था का बहुत बड़ा हिस्सा खुल चुका है.

इसी के साथ प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें देशवासियों का जीवन भी बचाना है और देश की अर्थव्यवस्था को भी मजबूत करना है और इस हालात में आपने “Getting Growth Back” की बात शुरू की है और निश्चित तौर पर इसके लिए आप सभी, भारतीय उद्योग जगत के लोग बधाई के पात्र हैं.

Next Post

कोरोना संकट के दौर मूडीज ने घटाई भारत की सॉवरेन रेटिंग, इससे भारत सरकार की चुनौती बढ़ गई

कोरोना संकट के दौर में इकोनॉमी की खराब हालत को देखते हुए रेटिंग एजेंसी मूडीज (Moody's) ने भारत की सॉवरेन रेटिंग को घटा दिया है और इसे घटाकर ‘बीएए2’ से ‘बीएए3’ कर दिया है और इससे भारत सरकार की चुनौती बढ़ गई है, क्योंकि इससे देश के निवेश पर असर पड़ता है.
Informative