शादी से पहले ये सर्जरी करा चिर कुंवारी बन रही लड़कियां!

ePatrakaar

नई दिल्ली। शादी से पहले यौन संबंध बनाना भारतीय समाज में ही नहीं, बल्कि दुनिया के करीब हर समाज में गलत माना जाता है। हालांकि बदलते समय के मुताबिक इस रूढ़िवादी सोच में बदलाव आया है। फिर भी शादी कर रहे युवकों की चाहत होती है कि उसकी होने वाली पत्नी ने शादी से पहले किसी के साथ यौन संबंध न बनाएं हों, लेकिन ऐसा होने पर कई बार शादीशुदा जिंदगी नर्क में तब्दील हो जाती है। और ये सब फर्क लाता है हाइमन, यानि चमड़ी की झिल्ली का वो टुकड़ा, जो यौन संबंध बनाते समय अगर मौजूद नहीं है तो लड़कियों को कुल्टा, चरित्र हीन जैसी जाने कितनी गालियों को सहने का पात्र बना देता है।

समय बदला, तकनीकी बदली और अब ऐसा तकनीकी आ गई है जिसके चलते लड़कियां फिर से खुद को कुंवारी साबित कर दे रही हैं। हालांकि मनोवैज्ञानिक नजरिए से देखें तो इसमें कुछ भी गलत नहीं है। क्योंकि अगर ये हाइमन ही उनकी पवित्रता की पहचान है, तो उसे धारण करने के लिए छल कपट भी जरूरी कदम हो जाता है। लेकिन इसके लिए खर्च करना पड़ता है मोटा धन।

जी हां, भारत के बड़े शहरों के कई अस्पतालों में अब ये सुविधा हो गई है कि एक छोटी सी सर्जरी के माध्यम से आर्टिफिशियल हाइमन लगाया जा रहा है। इसके लिए कई हजार से लाख रुपए तक का खर्च आ रहा है और ये धंधा सिर्फ हिंदुस्तान में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में खूब फल फूल रहा है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक इंग्लैंड की राजधानी लंदन में ही ऐसे करीब 20 क्लीनिक काम कर रहे हैं, जो लड़कियों को शादी के लिए जरूरी मानसिक मजबूती इस हाइमन के जरिए दे रहे हैं। अंग्रेजी अखबार डेली मेल की एक रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ लंदन में ऐसे 22 क्लीनिकों की पहचान की गई है जहां ब्रिटिश डॉक्टर पारंपरिक परिवारों के दबाव में आईं महिलाओं का ‘वर्जिनिटी रिपेयर’ ऑपरेशन करते हैं और इससे लाखों रुपये कमाते हैं।


लंदन में एक ऐसे ही क्लीनिक, द गाइन सेंटर ऐसे ऑपरेशन को अंजाम देता है। इस कृत्रिम ‘हाइमन को कौमार्य का टोकन माना जाता है और सांस्कृतिक और धार्मिक कारणों से शादी के लिए एक महत्वपूर्ण कारक बन गया है। आमतौर पर समाज में माना जाता है कि अगर हाइमन फटा हुआ है तो लड़की शादी से पहले संभोग कर चुकी है और ऐसे में कई मामलों में शादी भी टूट जाती है।

(नोट-1: ई पत्रकार की एडिटोरियल पॉलिसी के मुताबिक यह सिर्फ एक खबर है। हम ऐसी किसी भी कोशिश और आडंबर का पुरजोर विरोध करते हैं, जो समाज में गलत सोच को बढ़ावा दे। हमारे नजरिए के मुताबिक यौन संबंध एक सामान्य शारीरिक क्रिया है। और हम यौनिक शुद्धिकरण जैसे दकियानूसी विचारों का पुरजोर विरोध करते हैं।

नोट-2: शादी से पहले अफेयर कोई शर्म करने वाली बात नहीं है। आप इस बारे में अपने पार्टनर से खिलकर बात करें। साफ बोलें, ताकि झूठ के चलते आगे कोई दिक्कत नहीं आए।

नोट-3: हमारे समाज में लड़कों का कई लड़कियों के साथ यौन संबंध होना उसकी मर्दानगी का प्रतीक माना जाता है। हम इस जड़ता का विरोध करते हैं। हमारा मजबूती के साथ ये मानना है कि अगर लड़के शादी से पहले यौन संबंध बनाते हैं, और उसे बुरा नहीं माना जाता, तो लड़कियों पर इसे बुरा मानने का दबाव क्यों?

नोट-4: हमारी हेडलाइन थोड़ी आपत्तिजनक इसलिए है, क्योंकि आप पाठक इसी तरह की खबरों पर क्लिक करते हैं। ये हेडलाइन पूरी तरह से मनोवैज्ञानिक विश्लेषण के आधार पर लगाई गई है। इस हेडलाइन से किसी की भावनाओं को दुख पहुंचा हो तो हम क्षमाप्रार्थी हैं। सभी तस्वीरें प्रतीकात्मक हैं और इंटरनेट से साभार ली गई हैं।)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अलोकप्रिय हो चुके हैं नीतीश कुमार, बिहार में बीजेपी को तलाशनी होगी दूसरी राह!

नई दिल्ली। एक समय प्रधानमंत्री पद के दावेदार नीतीश कुमार बिहार में बेहद अलोकप्रिय हो गयें हैं। सुशासन बाबू का […]