कांग्रेस नेता और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह की पत्नी ने किया न्यूज चैनल बंद, लगभग 150 पत्रकार हुए बेरोजगार!

ePatrakaar

देश में बेरोजगारी का मुद्दा उठाकर केन्द्र सरकार को घेरने वाली कांग्रेस से जुड़े एक चैनल ने अपने 150 पत्रकारों को सड़क पर ला दिया है. दिल्ली में बहादुर शाह जफर मार्ग पर स्थित स्वराज एक्सप्रेस न्यूज चैनल को अचानक से बंद करने का मंगलवार को ऐलान कर दिया गया.

नई दिल्ली: देश में बेरोजगारी का मुद्दा उठाकर केन्द्र सरकार को घेरने वाली कांग्रेस से जुड़े एक चैनल ने अपने 150 पत्रकारों को सड़क पर ला दिया है. दिल्ली में बहादुर शाह जफर मार्ग पर स्थित स्वराज एक्सप्रेस न्यूज चैनल को अचानक से बंद करने का मंगलवार को ऐलान कर दिया गया.

 

दिग्विजय सिंह की पत्नी अमृता राय रही मैनेजिंग एडिटर

चैनल के सीईओ गुरदीप सिंह सप्पल ने सभी कर्मचारियों को संबोधित किया. इस दौरान भोपाल से पहुंची चैनल की मैनेजिंग एडिटर अमृता राय भी मौजूद रहीं, जो कांग्रेस की सीनियर लीडर दिग्विजय सिंह की पत्नी हैं.

 

कोर्ट कुछ नहीं कर सकती: गुरदीप सप्पल

गुरदीप सिंह सप्पल ने कहा कि अब हम अपना सफर आगे नहीं बढ़ा सकते. बता दें कि लोगों की जुलाई और अगस्त की सैलरी नहीं आई है, इसके अलावा कुछ और देने की बात भी नहीं की गई है. गुरदीप सप्पल ने तो यहां तक कह दिया कि इस मामले में कोर्ट में भी कुछ नहीं हो सकता. बता दें कि 7 सितंबर को एक हफ्ते का वक्त लेकर काम बंद किया गया था. सभी को सोमवार यानी 14 सितंबर को दफ्तर पहुंचना था, लेकिन अचानक से सबको सूचना दी जाती है कि 15 सितंबर को मीटिंग है.

 

पूरी योजना बनाकर शटर किया डाउन? 

इससे पहले ‘द प्रिंट’ में पूरी योजना के साथ एक खबर भी छपवाई गई, जिसमें खुद को बचाते हुए और फाइनेंसर और लाइसेंस के मालिक को जिम्मेदार ठहराया गया. ये कहा गया कि हम तो अच्छी पत्रकारिता कर रहे थे, जो लोगों को अच्छा नहीं लगा. मीटिंग में इस बात का जिक्र भी किया गया कि बाहर खबर लीक होने से एक फाइनेंसर भाग गया, लेकिन ऐसे तर्क गले से नीचे नहीं उतर रहे हैं. चैनल को इस तरह की समस्या आ रही है, इसकी मैनेजमेंट को जानकारी थी, अचानक से चैनल ऑफ एयर हो गया, ये कैसे संभव है. कुछ तो कम्युनिकेशन हुआ होगा.

 

कर्मचारियों ने अपने दम पर चलाया चैनल! 

स्वराज एक्सप्रेस में काम कर रहे पत्रकारों का कहना है कि ये चैनल बहुत पहले बंद हो गया होता, जब लॉकडाउन की शुरुआत हुई थी, लेकिन इस चैनल के कर्मचारियों ने जान हथेली पर लेकर काम किया. रोजाना करीब 9 घंटे का कंटेंट देते रहे.

 

इस खबर से जुड़े कुछ स्क्रीनशॉट यहां शेयर किए जा रहे हैं, जिसमें सप्पल और अमृता राय की तरफ से चैनल को लेकर जानकारी दी गई है.

2.

(नोट- ये खबर स्वराज एक्सप्रेस न्यूज चैनल में कार्यरत रहे कम से कम दो पत्रकारों से तस्दीक के बाद छापी गई है। खबर भी किसी कर्मचारी ने ही लिखकर भेजी है। नाम या पहचान जाहिर न करने के अनुरोध की वजह से पहचान सार्वजनिक नहीं की जा रही.)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

अमेरिका में आईपीओ लाने की तैयारी में टिकटोक, ग्लोबल बिजनेस के तौर पर शुरू करेगा अमेरिकी बाजार में काम

वॉशिंगटन: चीनी कंपनी बाइटडांस (Bytedance) को अमेरिका में अपने बिजनेस को बेचने के लिए मिली समयसीमा धीरे धीरे खत्म होने […]

You May Like